राजनीती

अमित शाह ने बताया कैसा बनेगा राम मंदिर

लखनऊ : उत्‍तर प्रदेश के तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह सोमवार को मीडिया से मुखातिब हुए. उन्‍होंने इस दौरान कई मामलों पर मीडिया से खुलकर बातचीत की. इस दौरान भाजपा अध्‍यक्ष ने राम मंदिर मुद्दे पर अपना रुख साफ किया. प्रेस कांफ्रेंस के दौरान संवाददाताओं के सवाल के जवाब में अमित शाह ने कहा कि राम मंदिर का मुद्दा हमारे घषणा पत्र में हैं और यह बनेगा.

शाह ने कहा कि यह मुद्दा हमेशा से ही हमारे घोषणा पत्र में रहा है लेकिन हमने यह हमेशा कहा है कि कोर्ट के फैसले या फिर आपसी सहमति के आधार पर ही मंदिर बनेगा. उन्‍होंने कहा कि जब से 1992 में विवादित ढांचे को गिराया गया है, तबसे ही राम मंदिर का मुद्दा हमारे घोषणा पत्र में है और हमारे रुख में आजतक इसपर कोई बदलाव नहीं आया है.

हमने हमेशा से ही कहा है कि कोर्ट के फैसले या आपसी सहमति के आधार पर ही राम मंदिर बनेगा. उन्होंने कहा कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी इस बात को दोहराया है. जब उनसे पूछा गया कि सरकार हमेशा से गो रक्षा की बात करती है, ऐसी चर्चा भी है कि गो मंत्रालय का गठन हो सकता है. इसके जवाब में अमित शाह ने कहा कि इस तरह के कई प्रस्ताव हमारे पास आए हैं और हम इसपर विचार कर रहे हैं.

आपको बता दें कि गोरक्षा के नाम पिछले कुछ महीनों में मारपीट और हत्या के मामले सामने आए हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने भी कहा था कि गोरक्षा के नाम पर किसी भी प्रकार की हिंसा सहन नहीं की जाएगी. इससे पहले बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार के पूछे जाने पर उन्‍होंने कहा कि महागठबंधन तोड़ने का हमारे पर आरोप लगाना गलत है, नीतीश कुमार ने खुद इस्‍तीफा दिया है.

मोदी सरकार की उपलब्धियों पर अमित शाह ने बातचीत करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने सात करोड़ 64 लाख युवाओं को लोन देकर रोजगार मुहैया कराया है. सरकार के कामों का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने चार करोड़ गरीबों के घरों में शौचालय बनवाए हैं. मोदी सरकार ने 19 हजार गांवों में बिजली पहुंचाई है. उन्‍होंने योगी सरकार के तीन महीने के कार्यकाल पर भी संतोष जाहिर किया.

About the author

amit tomer

Add Comment

Click here to post a comment




Trending