राजनीती

गरीबी, सांप्रदायिकता, बेईमानी, गंदगी और आतंकवाद भारत छोड़ो, 34वें एपीसोड में बोले मोदी

नई दिल्ली, एजेंसी। नरेंद्र मोदी ने रविवार को 34वीं बार मन की बात की। मोदी ने कहा, “जीएसटी लागू होने के बाद ग्राहकों का व्यापारियों पर भरोसा कायम हुआ है। एक ही महीने में इसके फायदे दिखने लगे हैं।” उन्होंने ये भी कहा कि 1942 में आजादी के लिए संकल्प लिया गया था। 5 साल में इसे पूरा करके दिखाया गया। इस बार हमें संकल्प लेना चाहिए कि गरीबी भारत छोड़ो, आतंकवाद भारत छोड़ो, गंदगी भारत छोड़ो। 2022 में इसे सिद्ध करके दिखाएं।
मन की बात में मोदी ने कहा कि पिछले दिनों गुजरात, राजस्थान, नॉर्थईस्ट और बंगाल में बाढ़ आई है। सरकार बाढ़ पीड़ितों की पूरी मदद कर रही है।बाढ़ से किसानों को काफी नुकसान होता है। हमने फसल बीमा के लिए कंपनियों को प्रो-एक्टिव होने के लिए कहा है। जीएसटी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि जीएसटी अब रंग लागने लगा है। मुझे खुशी होती है कि गरीबों के लिए चीजों के दाम कैसे कम हो गए हैं। कारोबार आसान हो गया है। कारोबारियों की आय बढ़ी है।मोदी ने कहा, “अगस्त का महीना एक तरह के क्रांति का महीना है। एक अगस्त को असहयोग आंदोलन और 9 अगस्त 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन शुरू हुआ। उन्होंने कहा कि 2022 में जब हम आजादी के 75 साल मनाएंगे तो नारा हो कि नए भारत के लिए गरीबी भारत छोड़ो, सांप्रदायिकता भारत छोड़ो, बेईमानी भारत छोड़ो, गंदगी भारत छोड़ो, आतंकवाद भारत छोड़ो और जातिवाद भारत छोड़ो। सभी लोग न्यू इंडिया के लिए कुछ न कुछ संकल्प लें। नए आइडिया उजागर कर सकते हैं।

About the author

amit tomer

Add Comment

Click here to post a comment




Trending