राजनीती

मुश्किल काम मोदी नहीं करेगा तो कौन करेगा, 2022 तक हिन्दुस्तान के हर गरीब को घर मिलेगा: PM

वाराणसी.नरेंद्र मोदी वाराणसी दौरे के दूसरे दिन शहंशाहपुर गांव पहुंचे। यहां उन्होंने पशुधन मेले का इनॉगरेशन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा- ” राजनीति का स्वभाव होता है कि लोग उसी के काम को करना पसंद करते हैं, जिसमें वोट की संभावना होती है। अब पशु वोट नहीं दे सकते, इसलिए दूसरी पार्टियों का इन पर ध्यान नहीं गया।” इस दौरान मोदी ने क्लीन इंडिया पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि हमें गांव, शहर को स्वच्छ बनाना है, लेकिन हम यह नहीं कर पा रहे हैं। इससे पहले मोदी ने गड्ढा खोदकर शौचालय की नींव रखी और स्वच्छता अभियान शुरू किया। मोदी की स्पीच की 5 अहम बातें…
1. विश्वास दिलाता हूं कि आपकी तपस्या बेकार नहीं जाएगी
– नरेंद्र मोदी ने कहा, “सबेरे-सबेरे इतना जनसागर। चारों तरफ लोग ही लोग नजर आ रहे हैं। क्षमा चाहता हूं कि जो व्यवस्था की वो कम पड़ गई।” धूप में खड़े लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि आपकी तपस्या बेकार नहीं जाने दूंगा।”
– “यूपी के सीएम को बहुत बधाई देता हूं कि आज उन्होंने पशुधन आरोग्य मेले की शुरुआत की। मैं जब वहां गया तो करीब-करीब 1700 पशु अलग-अलग जगह से यहां आए हैं। उनके आरोग्य के लिए वहां पर सारे एक्सपर्ट्स-डॉक्टर्स आए हैं। आर्थिक कारणों से जो किसान पशुओं की देखभाल नहीं कर पाता, उनको सहूलियत होगी।”
2. अब हर नागरिक को पहल करनी होगी
– नरेंद्र मोदी ने कहा, “2022 में भारत की आजादी के 75 साल हो रहे हैं। आजादी के दीवानों ने जो सपने देखे थे। उन सपनों को पूरा करने के लिए संकल्प लेना चाहिए। अगर देश के 125 करोड़ नागरिक एक-एक संकल्प लेते हैं तो देश 125 करोड़ कदम आगे बढ़ जाएगा। यूपी में नई सरकार बनने के बाद किसानों को सॉइल हेल्थ कार्ड देने का प्लान चला है, वो उनके लिए कारगर साबित होगा।”
– “हमने से कोई गंदगी में जीना नहीं चाहता। सभी को गंदगी से नफरत है। हम गंदगी करते हैं, सफाई कोई और करेगा, हमारी यही मानसिकता रहती है। इसके चलते हम गांवों-शहरों को साफ नहीं बना पा रहे। स्वच्छता हर परिवार की जिम्मेदारी है। स्वच्छता केवल गांव-गली अच्छी लगे, इसके लिए जरूरी नहीं है। ये आरोग्य के लिए जरूरी है।”
3. मैं जिस गांव में गया था, वहां शौचालय में लिखा हुआ है- इज्जतघर
– प्रधानमंत्री ने कहा- “यूनिसेफ ने कहा है कि अगर टॉयलेट घर में है तो बीमारी पर खर्च होने वाला सालाना 50 हजार रुपए बच जाता है। मुझे यहां एक गांव के लोगों ने कहा है कि 2 अक्टूबर के बाद कोई भी शख्स बाहर शौच के लिए नहीं जाएगा।”
– “आज मैं जिस गांव में गया था, वहां शौचालय में लिखा हुआ है- इज्जत घर। ये हमारी महिलाओं की इज्जत के लिए ही है। जो महिलाओं की इज्जत चाहेगा वो शौचालय जरूर बनाएगा।”
4. मुश्किल काम मोदी नहीं तो कौन करेगा
– मोदी ने कहा, “हमारा दायित्व है कि गरीब से गरीब को रहने के लिए घर दें। इसलिए हमने बहुत बड़ा बीड़ा उठाया है। ये मुश्किल काम है। ये मुश्किल काम मोदी नहीं करेगा तो कौन करेगा। हमने तय किया है कि 2022 तक हिंदुस्तान के हर गरीब को घर देंगे।”
– “भारत में इतने घर बनाने हैं कि यूरोप का एक छोटा देश जैसा बनाना है। इसमें ईंट लगेगी, लोहा-लकड़ी लगेगी तो लोगों को रोजगार मिलेगा।”
– “पहले यूपी की सरकार जो सरकार थी, उसे हम चिट्ठियां लिखते थे। गरीबों के घरों के बारे में पूछते थे। मुश्किल से हमें 10 हजार लोगों की सूची मिली।”
– “चाहे स्वच्छता की बात हो, चाहे बिजली पहुंचाने, स्वच्छता, घर-घर में टॉयलेट और पानी पहुंचाने की बात हो, हमने सारी योजनाओं को बल दिया है।”
– “कल बनारस में 600 करोड़ की लागत से सीवेज ट्रीटमेंट प्लान का इनॉगरेशन किया। ये 20 साल बाद भी छोटा नहीं पड़ेगा।”
5. अब बिजली बिल कम आ रहा है
– पीएम मोदी ने कहा, “LED बल्ब से घरों का बिजली का बिल कम हुआ है। काशी में स्ट्रीट लाइट में भी एलईडी बल्ब लगे हैं, इससे 13 करोड़ का बिल कम आया।”
– “जीएसटी में छोटे-छोटे व्यापारी जुड़ रहे हैं। अब जनता का पैसा उनकी भलाई के लिए होगा। 6 महीने में जो काम योगी सरकार ने किए हैं, उनके लिए मैं उन्हें बधाई देता हूं।”
पशुधन के लिए बनी इमारत का इनॉगरेशन किया
– मोदी ने शहंशाहपुर में पशुधन के लिए बनी नई इमारत का इनॉगरेशन किया। गोपूजन किया। पशु मेले के कार्यक्रम के बाद मोदी जनसभा की और पीएम आवास योजना के बेनिफिशरियों को स्वीकृति पत्र भी दिया।
तुलसी मानस मंदिर भी गए पीएम
– मोदी शुक्रवार को ट्रेड फैसिलिटी सेंटर के इनॉगरेशन के बाद तुलसी मानस मंदिर गए। उन्होंने मानस मंदिर और दुर्गाकुंड मंदिर में पूजा की। इस दौरान उनके साथ राम नाइक और सीएम योगी भी थे। उन्होंने यहां 1000 करोड़ की योजनाओं का इनॉगरेशन किया।
जिस योजना की नींव रखी, उसका इनॉगरेशन भी किया- मोदी
– इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को दो दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे। यहां उन्होंने ट्रेड फैसिलिटी सेंटर का इनॉगरेशन किया। मोदी ने 7 नवंबर 2014 को दीनदयाल हस्तकला संकुल नाम के इस सेंटर की नींव रखी थी। मोदी ने अपनी स्पीच में कहा, “हम जिन योजनाओं का शिलान्यास करते हैं, उनका उद्घाटन भी करते हैं।”
1000 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास
– मोदी ने शुक्रवार कहा, “एक ही कार्यक्रम में एक ही मंच से एक हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की योजनाओं का शिलान्यास हुआ। यूपी सरकार को भी इसका श्रेय जाता है। राज्य सरकार भी अभिनंदन की अधिकारी है। जिस योजना का लोकार्पण हुआ, मैं नहीं मानता कि पिछले कई दशकों में इतने बड़ी कोई योजना साकार हुई हो। जिस योजना का शिलान्यास हम करते हैं उसका उद्घाटन भी हम ही करते हैं। वरना योजनाएं लटकती रहती हैं। दो पुलों का शिलान्यास हुआ था कई साल पहले, लेकिन सपना साकार योगी जी ने किया।”

Add Comment

Click here to post a comment




Trending