राजनीती

CM योगी: ’15 साल में धर्म और जाति की राजनीत‍ि हुई

लखनऊ.यूपी सरकार गुरुवार से कर्जमाफी के लिए किसानों को सर्टिफिकेट दे रही है। सीएम योगी लखनऊ में खुद किसानों को इसका सर्टिफिकेट द‍िया। इस मौके पर योगी ने कहा, ”योजनाओं का क्रियान्वन राज्य सरकार के लेवल पर होना है। मोदी सरकार आने के बाद खाद और बीज की समस्या दूर हुई है। क‍िसानों को स्वावलंबी बनाने में सरकार जुटी है। यूपी में तुष्ट‍िकरण की राजनीति नहीं होगी। 2022 तक क‍िसानों की आय दोगुना करने का हमारा लक्ष्य है। 70 लाख क‍िसानों के वेर‍िफिकेशन की कार्रवाई अब तक पूरी हुई। क‍िसानों से र‍िकॉर्ड मात्रा में गेहूं क्रय क‍िया गया। सरकार ने 37 लाख टन गेहूं क्रय क‍िया है। 1 लाख मीट्र‍िक टन आलू खरीदने का लक्ष्य तय क‍िया। अब तक क‍िसी के सरकार के एजेंडे में क‍िसान नहीं रहा। क‍िसानों की कर्जमाफी उपकार नहीं, उनका अध‍िकार है।” यूपी में धर्म और जाति की राजनीति हुई…
– योगी ने आगे कहा, ”15 साल में धर्म और जाति की राजनीत‍ि हुई है। यूपी में पहली बार आलू का समर्थन मूल्य तय हुअा। यूपी में नेताओं के बड़े-बड़े नेताओं के मकान बन जाते थे। कई सरकारों ने जीते जी अपनी मूर्तियां लगवाईं, लेकिन पहली बार प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान बनाने के लिए, उसे मेन्टेन करने के लिए हम पैसा देने का काम कर रहे हैं।
– ”अब क‍िसान यूपी की राजनीति तय करेग। जनधन खाते से क‍िसानों को लाभ म‍िलेगा। हमने राजनीति को क‍िसान केंद्र‍ित बनाने का काम क‍िया है। अब हम आपकी खतौनी को आधार से ल‍िंक करने जा रहे हैं। क‍िसानों से धोखाधड़ी करने वाले लोग अब ऐसा नहीं कर पाएंगे। उनकी जमीन हड़प नहीं पाएंगे। ऐसे लोगों को कड़ी सजा म‍िलेगी”
– ”नक्सल प्रभाव‍ित इलाकों में 1 लाख 30 हजार रुपए का अनुदान हमने द‍िया है। 6 लाख क‍िसानों को मकान बनाने के ल‍िए पहली क‍िश्त दी गई है। दूध पीने के बाद गायों को सड़कों पर मत छोड़ें। अगर उन्हें माता मानते हैं तो उसके लिए काम कीजिए। हम गौवंश की उन्नत नस्ल के ल‍िए क‍िसानों को मदद कर रहे हैं। अब तक किसानों के पास बिजली कनेक्शन नहीं था, लेक‍िन हमने 7 लाख क‍िसानों को ब‍िज‍ली कनेक्शन देने का काम क‍िया है।”
– ”यूपी में भू-माफ‍ियाओं को राजनीतिक संरक्षण म‍िलता रहा है। गोचर भूम‍ि को भू-माफ‍ियाओं से मुक्त कराया जा रहा है। एंटी भू-माफ‍िया पोर्टल लॉन्च कर द‍िया गया है। यूपी में ट्रांसफर-पोस्ट‍िंग एक व्यवसाय बन गया था।”
क‍िसानों को म‍िल रहा उपज का उच‍ित दाम…
-राजनाथ सिंह ने आगे कहा, ”योगी सरकार में क‍िसानों को उपज का उच‍ित दाम म‍िल रहा है। चुनाव के दौरान क‍िया गया कर्जमाफी का वादा 100 द‍िन के अंदर ही पूरा क‍िया। कर्जमाफी के ल‍िए योगी सरकार बधाई की पात्र है।”
– ”हमारी कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं है। कर्जमाफी से क‍िसानों को राहत म‍िलेगी। 100 द‍िन में वादे पूरा करना कोई छोटी बात नहीं है। केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद खाद की कीमत में कमी हुई है।”
– ”फसल बीमा योजना को लेकर क‍िसान जागरुक हुए हैं। पहलों क‍िसानों को कर्जमाफी के लिए सरकारों से याचना करनी पड़ती थी। प्रति हेक्टेयर 6 क‍िलो अनाज उत्पादन का सरकार का लक्ष्य है। फसल बीमा योजना क‍िसानों के ल‍िए कवच है।”
पहली कैबिनेट में कई गई थी कर्जमाफी की घोषणा…
– इस मौके पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि लोग हमारी किसानों के ल‍िए की गई कर्ज माफी पर हंसते थे, लेकिन सरकार बनने के तुरंत बाद पहली कैबिनेट में इसकी घोषणा की गई।
– पिछली सरकार ने प्रदेश की आमदनी और राजस्व से 10 गुना ज्यादा योजनाओं की घोषणा कर दी, शिलान्यास कर दिया। लेकिन उसके लिए पैसों की व्यवस्था नहीं की।
– वहीं, ड‍िप्टी सीएम केशव मौर्य ने कहा, ”खेती को उत्तम साधन माना जाता था, लेकिन यहां की सरकारों की नकारात्मक सोच की वजह से किसानों की दुर्दशा हुई। क‍िसान गरीबी के शीर्ष तक पहुंच गया।”
7500 किसानों को दिए जाएंगे प्रमाण पत्र…
– बता दें, यूपी भर में 7500 किसानों को प्रमाण पत्र द‍िए जा रहे हैं। शुरुआत में 27.5 लाख आधार लिंक वाले किसानों के कर्जमाफ किए जाएंगे। लखनऊ में किसानों को योगी ने प्रमाण पत्र द‍िया तो बाकी 74 जिलों में वहां के प्रभारी मंत्री सर्टिफिकेट दे रहे हैं।
– बता दें, योगी सरकार ने कैबिनेट की पहली मीटिंग में ही किसानों के फसली कर्ज माफ करने का फैसला किया था। हालांकि, ये सुविधा सिर्फ लघु और सीमांत किसानों को ही मिलेगी। ये वो किसान होंगे, जिनके पास 5 एकड़ खेती वाली जमीन है और जिन्होंने एक लाख रुपए तक का कर्ज ले रखा है। फिलहाल यूपी में ऐसे 86 लाख किसान हैं।
4 द‍िन के लखनऊ दौरे पर हैंगृहमंत्री
– राजनाथ सिंह का दोपहर 2 बजे लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचेंगे, जहां महानगर इकाई के वर्कर्स उनका स्वागत करेंगे। एयरपोर्ट से वे करीब 3 बजे स्मृति उपवन जाएंगे, जहां फसली ऋण मोचन योजना के सर्टिफिकेट बांटने के प्रोग्राम का वे इनॉगरेशन करेंगे। इसके बाद वे अपने आवास 4 कालिदास मार्ग आ जाएंगे।
– 18 अगस्त को गृहमंत्री दोपहर 12.30 बजे पार्टी वर्कर्स से मुलाकात करेंगे और दोपहर 4 बजे लखनऊ के विधायकों/मंत्रियों के साथ अपने आवास पर ही मीटिंग करेंगे। शाम को 6 बजे अगस्त क्रांति की 75वीं वर्षगांठ पर होने वाले प्रोग्राम में शामिल होने के लिए कन्वेंशन सेंटर जाएंगे। शाम 7.30 बजे मध्य विधानसभा के बूथ लेवल के कार्यकर्ता सम्मेलन में शिरकत करेंगे।
– 19 अगस्त को सुबह 9.30 बजे से वे प्रतिनिधि मंडल और पार्टी वर्कर्स से अपने आवास पर मिलेंगे। करीब 11.30 बजे इंदिरानगर सेक्टर 14 के आरएलबी स्कूल में अलग-अलग सामाजिक संगठनों के साथ मीटिंग करेंगे। शाम 4.30 बजे इंदिरानगर में सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया के प्रोग्राम में जाएंगे और शाम 5.30 बजे पेपर मिल कॉलोनी में बाल्मीकि समाज के प्रोग्राम में हिस्सा लेंगे।
– 20 अगस्त को सुबह 11 बजे राजनाथ सिंह एनआईए के नए कैम्पस का इनॉगरेशन करेंगे। इसके बाद 12.30 बजे अमौसी एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

Add Comment

Click here to post a comment




Trending