आगरा

सांप ने गांव के 6 लोगों को काटा, ग्रामीणों में फैली दहशत

आगरा। चम्बल घाटी के बीहड़ में स्थित मनसुखपुरा के गांव तासौड में एक सांप ने दहशत फैला रखी है। सांप ने एक के बाद एक करके एक ही दिन में परिवार के छह सदस्यों को काट लिया जिससे पूरा परिवार भयभीत है। अब चारपाई से नीचे पैर रखने में भी डर लगता है।
मामला थाना मनसुखपुरा क्षेत्र के गांव तासौड का है । तीन रोज पहले गंगादेवी पत्नी टेक चंद को सर्प ने छत पर सोते समय पैर में काट लिया था। परिवारीजन महिला को रात्रि में ही इलाज के लिए वायगीरों के पास पैँतीखेड़ा ले गए, जहां महिला का अभी भी उपचार चल रहा है। उसके बाद इसी परिवार के हरीशंकर पुत्र आदिराम को शाम के समय सोने के लिए चारपाई ले जाते समय पैर में काट लिया। परिवारीजन युवक को भी इलाज के लिये पैंतीखेडा ले गए। इसके बाद दूसरे दिन अशोक कुमार की पत्नी दुलो देवी को भूसा भरते समय लकड़ियों के ढ़ेर में से, पुत्र अनूप को खेत पर घास लेते समय सर्प ने काट लिया । परिवारीजन मां और पुत्र को भी इलाज के लिये वायगीरों के पास पैंतीखेड़ा ले गए। इन दोनों का उपचार कराने के बाद जैसे ही परिवार के सदस्य घर लौटे तो अशोक कुमार की पुत्री कुमारी मोहिनी को भी सर्प ने बाथरूम जाते समय घर पर ही काट लिया। परिवार के सदस्य उसे भी पैँतीखेडा ले गए । एक साथ एक दिन में परिवार के तीन सदस्यों को सर्प द्वारा काटे जाने की सूचना समूचे क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। परिवार के सभी सदस्यों का इलाज करा कर लौटने के बाद घर में घुसते समय मुख्य दरवाजे पर राम प्रकाश को भी सर्प ने काट लिया। परिवार के मुखिया को भी सर्प द्वारा कांटे जाने की सूचना से ग्रामीण दहशत में आ गए और उन्हें भी इलाज के लिए रात्रि में ही पैँतीखेडा ले गए । आनन फानन में ग्रामीणों ने बुधवार को घर पर ही वायगीरों को बुलाकर सभी का इलाज शुरू कराया और जो सर्प परिवार के सभी सदस्यों को एक के बाद एक काट रहा था उसका कारण जानने के लिए थाली भी बजाई गई। वहीं सर्प द्वारा तीन दिन में एक ही परिवार के छ: लोगों को काटे जाने की घटना से सभी ग्रामीण सकते में हैं। वहीं ग्रामीणों ने वन विभाग से सर्प को पकड़ने की मांग की है।




Trending