आगरा क्राइम

लगातार बढ़ रहा यमुना एक्सप्रेस वे पर मौत का सफर

आगरा। यमुना एक्सप्रेस वे हादसों के मामलों में और आगे बढ़ रहा है। सूचना अधिकार अधिनियम में उपलब्ध करायी गयी सूचना से यह बात उजागर हुई है।वर्ष 2017 की पहली छमाही में 78 लोगों की मृत्यु हादसों में हो गयी, जो विगत आंकड़ों के मुकाबले कहीं अधिक थी।
यमुना एक्सप्रेस वे पर वर्ष 2013 में 118 मृत्यु हुईं, जबकि वर्ष 2014 में 127 लोग मारे गये। वर्ष 2015 में 142 व वर्ष 2016 में 128 लोगों की मौत यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसों में हुई। इन चारों वर्षो में हादसों में हुई मौतों के मुकाबले इस वर्ष की पिछली छमाही में हुयी 78 मौतें चौंकाने वाली हैं। येडा हादसों को घटाने के लिए तरह-तरह के आदेश जारी कर रहा है और ट्रेफिक पुलिस भी ई-चालान कर रहा है।दूसरी ओर उपलब्ध करायी गयी सूचना इन सभी प्रयासों को बेमाने बताती है।
सूचना अधिकार में यह सूचना नागरिकों के संगठन आगरा डवलपमेन्ट फाउण्डेशन (एडीएफ) के सचिव केसी जैन को यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (येडा) द्वारा उपलब्ध करायी गयी है।
इस संबंध में सचिव केसी जैन द्वारा यह कहा गया कि यमुना एक्सप्रेस वे पर लगाये गये कैमरों व इलेक्ट्रिॉनिक संयत्रों से वहां दौड़ रहे वाहनों की तेज गति स्वत: रिकॉर्ड हो जाती है और उसका डेटा को एक्सप्रेस वे के विकासकर्ता – जेपी इंफ्राटेक लि.- द्वारा यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (येडा) एवं पुलिस प्रशासन को उपलब्ध करा दिया जाता है, लेकिन यातायात पुलिस द्वारा चालानों की संख्या बहुत कम है। इस कारण वाहन चालक बिना भय के यमुना एक्सप्रेस वे पर अपने वाहनों को अनियंत्रित गति से दौड़ाते हैं और हादसों के शिकार हो जाते हैं। वाहनों चालकों के टायर भी ओवर स्पीडिंग से फट जाते हैं जिससे वाहन अनियंत्रित हो दुर्घटना का शिकार बना जाता है। उनके द्वारा यह मांग की गयी कि जब तक यमुना एक्सप्रेस वे वाहनों की गति पर रोक नहीं लगायी जायेगी और सभी ओवर स्पीडिंग वाले वाहनों का चालान नहीं होगा तब तक हादसों को रोका जाना संभव नहीं होगा।
टायर फटने का ये है बड़ा कारण
यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसों का सबसे बड़ा कारण टायर फटना ही है। अधिक गति के कारण इस मार्ग पर जल्द से टायर हीट होते हैं और फट जाते हैं। विशेषज्ञ बताते हैं, कि यह मार्ग कंकरीट से बना हुआ है, जिस पर टायर का जब घर्षण होता है, तो वे जल्दी गर्म हो जाते हैं और फट जाते हैं।

Add Comment

Click here to post a comment




Trending