क्राइम राजनीती

चंडीगढ़ छेड़खानी केस: अरेस्ट हुआ हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष का बेटा विकास बराला

चंडीगढ़चंडीगढ़ छेड़खानी मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी विकास बराला को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने आज दो घंटे की लंबी पूछताछ के बाद विकास को गिरफ्तार करने का फैसला किया. पुलिस ने विकास बराला पर अपहरण की कोशिश का केस दर्ज जोड़ा है. पुलिस ने इस मामले में विकास के दोस्त आशीष को भी गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस ने चंडीगढ़ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके के कहा कि वो कल इन आरोपियों को अदालत में पेश कर करेगी. चंडीगढ पुलिस के डीजीपी तेजेंदर लुथरा का कहना है कि अब इस केस में दो नई धाराएं 365 और 511 जोड़ी गई हैं. पुलिस का कहना है कि ‘घटना के वक्त विकास बराला ने शराब पी हुई थी.’

आपको बता दें कि मीडिया दवाब के बाद पुलिस ने विकास बराला और उसके साथी को पूछताछ के लिए थाने बुलाया था और इसके लिए उन्हें नोटिस भी भेजा गया था.

इससे पहले,  विकास बराला के पिता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके अपनी सफाई में कहा था कि उनका बेटा जांच में सहयोग कर रहा है. हालांकि, प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीजेपी के प्रवक्ता जवाहर यादव ने कहा था कि इस मामले में कोई दबाव नहीं डाला गया.

अब क्यों पुलिस को अपहरण की धारा लगानी पड़ी?

दरअसल, जब ये केस सामने आया था तब पुलिस ने बहुत जल्द दी आरोपी को थाने से जमानत दे दी थी. इसके बाद ये मुद्दा गरमा गया. पुलिस पर सियासी दबाव में काम करने के आरोप लगे. सोशल मीडिया पर भी पीड़ित का भी चरित्र हनन करने की कोशिश बीजेपी समर्थक कार्यकर्ताओं की तरफ से की गई. यहां तक की सीसीटीवी फुटेज भी गायब कर दी गई. मामले को तूल पकड़ता दिख पुलिस ने अब कार्रवाई की है और इस केस में कड़ी धराएं जोड़ी हैं और अब आरोपी को गिरफ्तार किया गया है.

सीसीटीवी से सच 

कल सीसीटीवी में कैद तस्वीरें भी सामने आई थीं, जिसमें साफ दिख रहा था कि विकास बराला शिकायतकर्ता वर्णिका कुंडु की गाड़ी का पीछा कर रहा था. अब जाकर विकास बराला के खिलाफ अपहरण की कोशिश का मामला दर्ज हुआ है.

इससे पहले, चंडीगढ़ पुलिस के डीजीपी तेजेंद्र लूथरा ने कहा, ‘’चार दिनों में हमारी जांच अहम मोड़ पर पहुंच गई है, इसलिए आरोपियों से पूछताछ जरूरी है. विकास बराला ने नोटिस लेने से इनकार कर दिया था, इसलिए उसके घर पर चिपका दिया गया है.’’ उन्होंने बताया कि जांच के लिए हर जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं.

तेजेंद्र लूथरा ने यह भी बताया, ‘’हमारे पास पर्याप्त सबूत हैं. ड्यूटी डॉक्टर ने आरोपियों ने ब्लड-यूरिन सैम्पल देने को कहा था लेकिन उन्होंने मना कर दिया था. जांच में ये बात उनके खिलाफ जाएगी.’’

चंडीगढ़ छेड़खानी केस की सीसीटीवी तस्वीरों के सामने आने के बाद शिकायकर्ता वर्णिका को काफी राहत मिली है. उनकी उम्मीद बढ़ी है कि अब केस की जांच में तेजी आएगी और पुलिस को भी आसानी होगी.

सच की जीत होगी- वर्णिका

खास बातचीत में वर्णिका ने अपनी खुशी जाहिर की है. उन्होंने कहा है, ‘’पहले जब जानकारी आई कि सीसीटीवी खराब है तो निराशा हुई अब सीसीटीवी फुटेज मिला है तो खुशी है. सच की जीत होगी.’’

सुभाष बराला का शुक्रिया- वर्णिका

कल सुभाष बराला ने कहा था कि वर्णिका उनकी बेटी की तरह है. वह वर्णिका को इंसाफ दिलाकर रहेंगे. सुभाष बराला के इस बयान पर वर्णिका ने कहा, ‘’सुभाष बराला ने घटना से इंकार नहीं किया है. इसलिए साथ देने के लिए मैं उनका शुक्रिया अदा करती हूं.’’

क्या है पूरा मामला?

चंडीगढ़ में बीते शनिवार की रात करीब 12.15 बजे IAS की बेटी वर्णिका कुंडू से छेड़छाड़ हुई थी. छेड़छाड़ का आरोप हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला और उसके दोस्त पर लगा है. वारदात के बाद पुलिस ने विकास बराला के गिरफ्तारी कर लिया था, लेकिन कुछ देर बाद उनको  जमानत पर रिहा कर दिया गया था. इसके बाद विवाद खड़ा हो गया था. विपक्ष लगातार बीजेपी पर आरोपी को बचाने का आरोप लगा रहा है और सुभाष बराला के इस्तीफे की मांग कर रहा है.

Add Comment

Click here to post a comment




Trending