टेक्नोलॉजी

प्रमाणिक नहीं गूगल मैप्स

देहरादून। गूगल मैप्स को विश्वसनीय नहीं माना जाता क्योंकि उन्हें सरकार की ओर से किसी प्रकार से प्रमाणित नहीं किया गया है। यह कहना है कि देश की प्रमुख सर्वेयर स्वर्णा सुब्ब राव का। सर्वेयर जनरल आॅफ इंडिया राव का कहना है कि देहरादून में 250 वर्ष पुराने संस्थान सर्वे आॅफ इंडिया द्वारा तैयार मानचित्रों को ही महत्वपूण ढांचागत परियोजनाओं के लिए प्रयोग किया जाता है।
स्वर्णा सुब्ब राव ने बताया कि गूगल के मानचित्र प्रमाणिक नहीं हैं। उन्हें सरकार द्वारा तैयार नहीं किया जाता, इसलिए वे प्रमाणिक नहीं माने जा सकते। रक्षा उद्देश्य के लिए नक्शे तैयार करने वाले संस्थान के प्रमुख राव ने कहा सर्वे आॅफ इंडिया द्वारा तैयार मानचित्र ही गंभीर आवेदनों के लिए प्रयोग किए जाते हैं। वह संस्थान के एक कायक्रम के दौरान सवालों का जवाब दे रहे थे।
उन्होने बताया कि सर्वे आॅफ इंडिया द्वारा सटीक और गुणवत्तापूर्ण आंकड़ों के आधार पर मानचित्रों को तैयार करता है। हालांकि डीएसटी सचिव आशुतोष शर्मा ने कहा कि सैटेलाइट मैपिंग को पूरी तरह नकारना गलत होगा क्योंकि सर्वे आॅफ इंडिया और गूगल जैसी कंपनियों के मानचित्रों का प्रयोग अलग-अलग उद्देश्यों के लिए होता है।

About the author

Som Sahu

Add Comment

Click here to post a comment




Trending