Uncategorized

17 लोग गिरफ्तार हुए हैं, लगता है हमारा देश पाकिस्तान बन जाएगा

पाकिस्तान और भारत के बीच आईसीसी चैंपियनशिप का फ़ाइनल मुकाबला. दोनों देशों में देशभक्ति चरम पर थी. भारत 180 रन से हार गया. इस हार के बाद देश से ऐसी ख़बरें आईं जो नहीं आनी चाहिए थीं. कहीं टीवी फोड़े गए तो कहीं क्रिकेट खिलाड़ियों के पोस्टर जलाकर टीम इंडिया का विरोध किया गया. ख़बरें ये भी आईं कि पाकिस्तान की जीत पर पटाखे जलाए.

ऐसी ही खबर मध्य प्रदेश के बुरहानपुर ज़िले से भी आई. कहा जा रहा है कि यहां पर पाकिस्तान की जीत पर आतिशबाजी की गई. इस वजह से मोहद कस्बे में तनाव फैल गया. आतिशबाज़ी करने पर 15 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उनके खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया. केस सिर्फ देशद्रोह का ही नहीं लगाया गया है, बल्कि आपराधिक षड़यंत्र रचने के का भी केस लगा है. इस खबर को पढ़ने के बाद पाकिस्तान का उमर द्राज याद आता है, क्योंकि उसने विराट कोहली के समर्थन में अपने घर की छत पर भारतीय तिरंगा लगा दिया था. और उसे गिरफ्तार कर लिया गया था.

अब पाकिस्तान की जीत का समर्थन हुआ है. तो क्या अपना देश भी पकिस्तान बनने की राह पर है?

उमर द्राज ने रिपोर्टरों से बात करते हुए कहा था,

‘मैं विराट कोहली का बड़ा फैन हूं. मैं कोहली की वजह से भारतीय टीम को सपोर्ट करता हूं. घर की छत पर तिरंगा फहराना भारतीय क्रिकेटर के प्रति मेरे प्यार को दर्शाता है.’

तो क्या खेल के दिवानों को अपनी पसंद को छोड़कर सिर्फ और सिर्फ राष्ट्रभक्ति ही दिखानी चाहिए. अगर ऐसा है तो फिर किसी को टेनिस स्टार रोजर फेडरर, राफेल नडाल, अर्जेंटीना के स्‍टार फुटबॉलर लियोनेल मेसी जैसे खिलाड़ियों का भी समर्थन नहीं करना चाहिए. क्या अपने देश में खिलाड़ी नहीं हैं?

मंगलवार को शाहपुर पुलिस थाने के इंस्पेक्टर संजय पाठक ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि मोहद कस्बे से सुभाष नाम के शख्स का फोन आया कि इलाके में कुछ लोग पाकिस्तान की जीत पर उसके समर्थन में नारेबाज़ी कर रहे हैं. और पटाखे जला रहे हैं. पुलिस ने सोमवार को 19 से 35 साल की उम्र के 15 लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

गिरफ्तार हुए लोगों की संख्या इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक 17 बताई जा रही है. सभी को आईपीसी की धारा 124ए (देशद्रोह) और 120बी (आपराधिक षड़यंत्र) के तहत गिरफ्तार किया गया है.

संजय पाठक के मुताबिक मंगलवार को सुबह इन सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां उनकी जमानत की एप्लीकेशन को खारिज कर दिया गया. और जेल भेजने का आदेश दिया गया. देशद्रोह के इन आरोपियों को खंडवा जिला जेल भेजा गया है.

स्थानीय लोगों का का कहना है कि मैच में पाकिस्तान की जीत के बाद रात करीब 10 बजे पाकिस्तान के समर्थन में और भारत विरोधी नारे लगाए जा रहे थे. आतिशबाजी की जा रही थी. तब वहां पुलिस आई और आतिशबाजी कर रहे लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

About the author

admin

Add Comment

Click here to post a comment




Trending