पासपोर्ट फीस 10% घटी, 8 साल से कम और 60 से ज्यादा उम्र के लोगों को फायदा

Spread the love

Please follow and like us:

  • 4
  • Share
नई दिल्ली.विदेश मंत्रालय ने 8 साल से कम और 60 से ज्यादा उम्र के नागरिकों के लिए पासपोर्ट फीस 10% घटाने का फैसला लिया है। शुक्रवार को सुषमा स्वराज ने कहा कि अब पासपोर्ट अंग्रेजी के साथ हिंदी लैंग्वेज में भी जारी किए जाएंगे। फिलहाल, नार्मल प्रॉसेस के लिए 1500 और तत्काल के लिए 3500 फीस ली जाती है। सुषमा पासपोर्ट एक्ट, 1967 के 50 साल पूरे होने पर एक प्रोग्राम में बोल रही थीं। पासपोर्ट की प्रॉसेस आसान बनाने के लिए सरकार ने देश में हर 50 किलोमीटर पर पासपोर्ट सेवा केंद्र (PSK) खोलने की योजना बनाई है। अब ये होगी फीस…
– सरकार ने जुलाई, 2014 में नॉर्मल प्रॉसेस के लिए पासपोर्ट और सर्विस चार्ज 1000 से बढ़ाकर 1500 रुपए और तत्काल स्कीम के लिए 2500 से बढ़ाकर 3500 रुपए कर दिया था।
– लेकिन अब बच्चों और बुजुर्गों (8 से कम और 60 से ज्यादा उम्र) के लिए फीस 10% घटाई गई है। इससे नॉर्मल पासपोर्ट के लिए 1350 रुपए ही लगेंगे। फिलहाल, साफ नहीं है कि तत्काल स्कीम में इसका फायदा मिलेगा या नहीं?
नॉर्थ-ईस्टर्न स्टेट में भी खोले गए PSKs
– पिछले हफ्ते सुषमा ने 149 नए POPSK लॉन्च किए थे। इससे पहले 1st फेज में 86 POPSK खोले गए थे। ये विदेश मंत्रालय और पोस्टल डिपार्टमेंट की साझेदारी से खोले गए हैं।
– सुषमा स्वराज ने कहा था, “सत्ता में आने के बाद ही NDA ने नॉर्थ-ईस्टर्न स्टेट्स में 16 PSKs खोले हैं। अब PSKs और POPSKs की संख्या 251 हो गई है। इससे पहले पूरे देश में PSKs की संख्या केवल 77 थी। जब मैंने मिनिस्ट्री का चार्ज संभाला, तब पासपोर्ट के लिए अप्लाई करने में सबसे बड़ी मुश्किल पासपोर्ट ऑफिस की दूरी थी। हमने तय किया है कि देश में किसी को भी पासपोर्ट हासिल करने के लिए 50 किलोमीटर से ज्यादा दूरी तय नहीं करनी पड़ेगी।”
810 हेड पोस्ट ऑफिस की मैपिंग
– सुषमा ने बताया था, “विदेश मंत्रालय और पोस्ट डिपार्टमेंट मिलकर 810 हेड पोस्ट ऑफिस की मैपिंग का काम कर रहे हैं। इस स्कीम का दायरा बढ़ाने कोशिश की जा रही है। पोस्ट ऑफिस की मैपिंग के बाद 3rd फेज में और ज्यादा POPSKs खोले जाएंगे।”

Please follow and like us:

  • 4
  • Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *